Amazon

जैसा दिखता है वैसा होता नहीं-Jaisa Dikhata Hai Waisa Hota Nahi-Short Hindi Stories


Two Angels, Wings, Statue, Stone, Sculpture, Decoration

दो फरिस्ते थे सफर कर रहे थे तभी उन्होंने सोचा चलो कही आराम करते है तो वो एक अमीर आदमी के घर पर रुक गए पूरा परिवार था उन सब का व्यवहार बड़ा ही रुखा सूखा लगा उन्हें इतना बड़ा घर था पर सबसे छोटा कमरा दिया उन फ़रिश्तो के लिए उसकी फर्श भी बहोत कड़क थी और ठंडी भी बहुत ज्यादा थी और ओढ़ने के लिए चद्दर भी नहीं दी थी अब दोनों में से जो बड़ा फरिस्ता था उसने दिवार में जो बड़ा छेड़ था उसे बंद कर दिया तो छोटा फरिस्ता देखता रह गया और बोलै इन्होने हमारे लिए ऐसी व्यवस्था की और तुम उनकी मदत कर रहे हो तो बड़े फरिस्ते ने जवाब दिया जो जैसा दिखता है वो वैसा होता नहीं है

फिर अगले दिन आगे बढे और एक शाम को एक गरीब इंसान के यहाँ रुक गए वो एक किसान था और किसान के साथ उसकी पत्नी थी दोनों ने ही अपना बिस्तर उन फ़रिश्तो को सोने के लिए दे दिया और खुद बाहर ठण्ड में सो गए पर जब अगली सुबह इन फ़रिश्तो की नींद खुली तो ये किसान जोर जोर से रो रहा था देखा तो उसकी एकलौती गाय एक जगह पड़ी हुई थी और बिलकुल हिल नहीं रही थी किसान फुट फुट कर रोने लगा और बोला मेरे पास खेतीबाड़ी और सिर्फ ये गाय थी ये भी मुझसे छीन गयी

Angel, Statue, Figure, Sculpture, Wing

तब छोटा फरिस्ता बड़े फरिस्ते की तरफ देखता रहा और बोला में आपके रहते हुए कुछ नहीं कर सकता था पर आपने क्या किया आपने इस किसान की मदत तक नहीं की उसकी एकलौती गाय को नहीं बचे और वहा उस अमीर इंसान की दिवार थी कर रहे थे फरिस्ते ने कहा मैंने पहले भी कहा था जो दिखता है वो वैसा होता नहीं रहा इस किसान का सवाल तो में कल देर रात तक जगा हुआ था मुझे नींद नहीं आ रही थी और मैंने देखा मौत का सौदागर जब किसान की जान लेने आया तो मैंने उसे मजबूर कर दिया उसके बदले गाय की जान लेने को कहा

जहा तक उस अमीर इंसान की दिवार ठीक करने की बात है, मै तुमको बता दू मैंने दिवार की पार देख लिया था उस छेड़ की जरिये देख लिया था उसने अपना सारा धन सारी संपत्ति दिवार की पीछे छुपा कर रही थी और छोटा सा चिन्ह छोड़ा था वो छोटासा छेद मैंने वो छेद ही भर दिया अब ढूंढता रहेगा अपनी संपत्ति नहीं तो तोड़ देगा अपना सारा घर 

Angel'S Trumpet, Brugmansia, Two

अर्थात कभी कभी चीजे अपने विरुद्ध दिखाई पड़ती है, लेकिन ऐसी होती नहीं है जहा तक इस कहानी का सवाल है इंसान को बेहतरीन बनाने की कोशिश तो करनी चाहिए बेहतरीन इंसान सिर्फ अपने प्रेम से और अपने कर्मो से जाना जाता है बाकि अच्छी बाटे तो दिवार पे भी लिखी होती है